कार्बोहाइड्रेट किसे कहते हैं – carbohydrates

 

carbohydrate kaise kehte hai

carbohydrate kise kehte hai

कार्बोहाइड्रेट

कार्बोहाइड्रेट फल, अनाज, सब्जियों और दूध उत्पादों में पाए जाने वाले शर्करा, स्टार्च और फाइबर हैं। हालांकि अक्सर ट्रेंडी डाइट, कार्बोहाइड्रेट्स में खराबी होती है – मूल भोजन समूहों में से एक – एक स्वस्थ आहार के लिए महत्वपूर्ण है।

तीन मैक्रोन्यूट्रिएंट्स हैं: कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और वसा, स्मैथर्स ने कहा। मैक्रोन्यूट्रिएंट्स उचित शरीर के कामकाज के लिए आवश्यक हैं, और शरीर को बड़ी मात्रा में इनकी आवश्यकता होती है। सभी macronutrients आहार के माध्यम से प्राप्त किया जाना चाहिए; शरीर अपने आप ही मैक्रोन्यूट्रिएंट का उत्पादन नहीं कर सकता है।

कार्बोहाइड्रेट का कार्य

  1. कार्बोहाइड्रेट केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के लिए ईंधन और कामकाजी मांसपेशियों के लिए ऊर्जा प्रदान करते हैं।
  2. आयोवा स्टेट यूनिवर्सिटी के अनुसार, प्रोटीन प्रोटीन को ऊर्जा स्रोत के रूप में इस्तेमाल करने से रोकता है और वसा चयापचय को सक्षम बनाता है।
  3. इसके अलावा, “कार्बोहाइड्रेट मस्तिष्क समारोह के लिए महत्वपूर्ण हैं

 

कार्बोहाइड्रेट्स, कार्बनिक पदार्थ हैं जिसमें कार्बन, हाइड्रोजन व आक्सीजन होते है। इसमें हाइड्रोजन व आक्सीजन का अनुपात जल के समान होता है।कुछ कार्बोहाइड्रेट्स सजीवों के शरीर के रचनात्मक तत्वों का निर्माण करते हैं जैसे कि सेल्यूलोज, हेमीसेल्यूलोज, काइटिन तथा पेक्टिन।

जबकि कुछ कार्बोहाइड्रेट्स उर्जा प्रदान करते हैं, जैसे कि मण्ड, शर्करा, ग्लूकोज़, ग्लाइकोजेन. कार्बोहाइड्रेट्स स्वाद में मीठा होते हैं शरीर को कार्बोहाइड्रेट्स दो प्रकार से प्राप्त होते है, पहला माड़ी अर्थात स्टार्च तथा दूसरा चीनी अर्थात शुगर है।

केला, अमरूद, गन्ना, चुकंदर, खजूर, छुआरा, मुनक्का, अंजीर, शक्कर, शहद, मीठी सब्जिया, सभी मीठी खाद्य से प्राप्त होने वाले कार्बोहाइड्रेट्स अत्यधिक शक्तिशाली और स्वास्थ्य के लिय लाभदायक होते है परन्तु इनकी अधिकता अनेक खतरनाक जानलेवा रोगो को भी जन्म देती है जिसमे प्रमुख रूप से अजीर्ण, मधुमेह, अतिसार रोग होते है। इसमे अत्यधिक वजन बढ जाने से भी जीवन को खतरा उत्पन्न हो जाता है।

(1) मोनोसैकराइड्स – ये सरल कार्बोहाइड्रेट होते हैं। इनका जलीय अपघटन संभव नहीं होता है। ये आधारभूत कार्बोहाइड्रेट होते हैं।ये जल में विलेय होते हैं। जैसे- पेण्टोज, हेक्सोज (ग्लूकोज) आदि।

(2) ओलिगोसैकराइड्स – ये 2 से 10 मोनोसैकराइड्स के संगठन से बनते हैं। जैसे – सुक्रोज, माल्टोज, लैक्टोज आदि।

(3) पालिसैकराइड्स – यह 10 से लेकर 1000 या उसे भी अधिक मोनोसैकराइड्स से बनते हैं। ये पानी में अविलेय होते हैं। जैसे – स्टार्च, सेल्यूलोज, ग्लाइकोजन, काइटिन आदि।

 

Quiz Matched Content(quiz_matched_content)
सभी सरकारी नौकरी की तैयारी करे वो भी घर बैठे सिर्फ QuestionExam फेसबुक पेज Like करके।
Tags : carbohydrate, कार्बोहाइड्रेट
Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *