Acidity ke lakshan or Digestive system-पाचन तंत्र एसिडिटी के लक्षण

एसिडिटी में क्या खाएं

  • एसिडिटी के रोगियों को अपने खाने में दूध, छाछ, नारियल पानी और गुनगुने पानी शामिल करना चाहिए |
  • ताज़ा भोजन ही खायें।
  • अनाज जैसे जौ, गेहूं, चने का प्रयोग करें।
  • दालों में मूंग और मसूर का प्रयोग करें।

 

एसिडिटी में इन चीज़ों को न प्रयोग करें

  1. बहुत ज़्यादा चाय-कॉफ़ी, शराब, धूम्रपान, मांसाहार का सेवन नहीं करना चाहिए।
  2. खाना खाने के बाद सोना तथा खाना खाने के बाद पानी न पीयें बहुत ज़्यादा तेल का खाना नहीं खाना चाहिए।
  3. मिर्च-मासालेदार खाने के अलावा देर से पचने वाले भोजन बादी चीजे न खाये जैसे कि राजमा, छोले, मटर, गोभी, भिंडी, आलू, अरबी, कटहल, बैंगन,बजार का भोजन न खायें जैसे कि इडली, डोसा, टिक्की बतासा, समोसा खाना आदि का प्रयोग भी नहीं करना चाहिए।

एसिडिटी के लक्षण

जिंदगी में लगभग हर व्यक्ति डकार (एसिडिटी) यानि अम्लपित्त से परेशान है। देर तक खाली पेट रहने और ज्यादा तला-भुना खाने से एसिडिटी होने की संभावना ज्यादा होती है। अधिकतर पेट में जलन, खट्टी डकारें आना, मुंह में पानी भर आना, पेट में दर्द, गैस की शिकायत, जी मिचलाना कभी कभी तो पेट में दर्द होना, ये एसिडिटी के लक्षण हैं। तो आज हम एसिडिटी के उपचारों के बारे में बात करेंगे।

कार्बोहाइड्रेट किसे कहते हैं

पाचन तंत्र मजबूत करने की दवा

पाचन तंत्र वह क्रिया है जब हम कुछ भी खाना खाते हैं उसे सही रूप से हमारे शरीर में पहुंचाने का काम पाचन तंत्र करता है.
अगर यह पाचन तंत्र ख़राब हो जाए तो हम जो कुछ भी खाते हैं, उसे सही ढंग से पचा नहीं पाएंगे. जिस कारण हमारे Body को जरुरी विटामिन्स और मिनरल्स नहीं मिल पाएंगे हमारा शरीर बीमारियों से भर जाता है

  • अधिक मात्रा में पानी पीये
  • अपनी दिनचर्या सही रखे
  • रात को जल्दी सो जाए
  • अपनी दिनचर्या सही रखे
  • तनाव को करे दूर
  • फास्ट फ़ूड को कहे अलविदा
  • शारारिक कार्य जरुर करे
  • सही समय पर रोजाना भोजन करे
  • खाने – पीने में कमी न करे
  • शराब और सिगरेट से दूर रहे
  • हमेशा बैठे – बैठे काम न करे
  • ऑयली खाने से परहेज करे
  • वासा भोजन लेने से बचे
  • रोजाना व्यायाम करे

Quiz Matched Content(quiz_matched_content)
सभी सरकारी नौकरी की तैयारी करे वो भी घर बैठे सिर्फ QuestionExam फेसबुक पेज Like करके।
Tags : acidity ke lakshan, एसिडिटी के लक्षण, पाचन तंत्र
Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *